Top

''इपैफक्टिव लीडरशिप'' वर्कशॉप का सफल एवं सार्थक रूप में समापन

इपैफक्टिव लीडरशिप वर्कशॉप का सफल एवं सार्थक रूप में समापन

मुज़फ्फरनगर । एसडी पब्लिक स्कूल मुज़फ्फरनगर में सीबीएसई सेन्टर ऑफ एक्सिलेंस: देहरादून द्वारा आयोजित तीन दिवसीय इपैफक्टिव लीडरशिप (प्रभावी नेतृत्व) कार्यशाला का सफल एवं सार्थक रूप से समापन हुआ। इस कार्यशाला में निर्धारित विषय के अनेक रचनात्मक गतिविधियों के साथ ''क्षमता निर्माण'' आधरित सृजनात्मक विचार मंथन किया गया। विभिन्न विद्यालयों से आए प्रधानाचार्यों एवं शिक्षा साधकों ने अपनी उपस्थिति से विषय मंथन के द्वारा कार्यशाला को सार्थकता एवं सफलता प्रदान की। गत दो दिवसों से चल रही कार्यशाला के समापन दिवस का शुभारंभ माँ सरस्वती के श्री विग्रह समक्ष दीप प्रज्ज्वलन द्वारा किया गया। प्रधानाचार्या श्रीमती चंचल सक्सैना, उपप्रधानाचार्य शिव कुमार, श्रीमती नूपुर (एक्टिविटी इंचार्ज), ब्रजेश गर्ग, श्रीमती कुमुद गार्गी (इंचार्ज), श्रीमती गीता मित्तल (इंचार्ज), श्रीमती चारू वर्मा, श्रीमती शुचि अग्रवाल द्वारा आगत अतिथियों का अभिनंदन किया गया। कार्यशाला के द्वितीय दिवस विमर्श एवं विचार मंथन के विषय 'अंडर स्टेंडिंग स्कूल एज़ लर्निंग ऑर्गनाइजेशन'' के अन्तर्गत 'द पफाइव डिसीप्लिन'' 'अंडर स्टेंडिंग लर्निंग ऑर्गनाइजेशन इन बिहेवियरल टर्मस्'' 'स्कूल सैल्फ असिसमेंट टूल, हाऊ टू डेवलप स्कूलस् एज़ लर्निंग ऑर्गनाइजेशन'' उपविषयों पर रचनात्मक कार्य किया गया। अनुभवी विशेषज्ञ कल्पना कपूर एवं जयश्री जोशी के द्वारा इस अंश में 'हैल्थ एंड वैलनेस'' को केन्द्रित कर 'रिकैप एण्ड हेल्थ प्रमोटिंग स्कूल, वैल बींग ऑफ स्टूडेंट्स'' को सुंदर व्याख्यान शैली एवं एक्टिविटी द्वारा प्रस्तुत किया गया। 'हैप्पी ऑर्गनाइजेशन'' के अंतर्गत 'बिल्डिंग ए सेंस ऑफ बिलांगिंग'' को स्पष्ट करते हुए आत्म विश्लेषणात्मक अधीत अधिगम को प्रश्नोत्तर माध्यम से परखने व सहज बनाने का प्रयास किया गया। कार्यशाला को सपफल समापन की ओर ले जाते हुए रिसोर्स पर्सनस् के द्वारा शैक्षिक संगठनों एवं शिक्षा को समृद्ध करने वाली सुधरात्मक कार्यशाला के लक्ष्य 'कैपेसिटी बिल्डिंग '' (क्षमता निर्माण) को समग्र उपस्थित शिक्षासाध्कों के समक्ष प्रस्तुत किया गया। तीन दिवसीय महत्वपूर्ण कार्यशाला के समापन अवसर पर उपस्थित सभी प्रधानाचार्यों एवं शिक्षासाधकों को सीबीएसई की तरफ से प्रमाण पत्र एवं स्कूल की तरफ से स्मृति चिन्ह् भेंट किया गया। प्रधानाचार्या श्रीमती चंचल सक्सैना के द्वारा शिक्षाविद् रिसोर्स पर्सनस् को धन्यवाद करते हुए उन्हें सप्रेम प्लांटर एवं स्मृति चिह्न प्रदान किया गया। प्रधानाचार्या चंचल सक्सैना के द्वारा कार्यशाला में हुए विचार मंथन, विमर्श, गतिविधियों एवं रोचक प्रस्तुति की महती प्रशंसा की गयी। कार्यशाला को सफल सुनियोजित, अनुशासित स्वरूप प्रदान करने में चीफ प्रोक्टर विकेश गुप्ता, शुचि अग्रवाल, दीपाली कपिल, राखी शर्मा, वीणा शर्मा, मोनिका शर्मा, कृति अग्रवाल का महत्त्वपूर्ण योगदान रहा। छायाचित्र एवं विडियोग्राफी के कार्य को अनवर एवं फुरकान द्वारा कुशलतापूर्वक किया गया।

Share it