Top

उधार दी गयी रकम वापिस मांगने का दबाव बनाने पर की थी बंगाली तांत्रिक की हत्या .... रहकड़ा निवासी पिता व उसके दो पुत्रों ने सोते समय घोंट दिया था गौतमदास का गला

उधार दी गयी रकम वापिस मांगने का दबाव बनाने पर की थी बंगाली तांत्रिक की हत्या .... रहकड़ा निवासी पिता व उसके दो पुत्रों ने सोते समय घोंट दिया था गौतमदास का गला

मुजफ्फरनगर। उधार दी गयी ढाई लाख रुपये की रकम वापिस मांगने पर दबंगों ने बंगाली तांत्रिक की गला दबाकर हत्या कर दी थी। आज पुलिस ने रहकड़ा के बंगाली पंडित गौतम दास हत्याकांड का खुलासा करते हुए दो हत्यारोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि दो फरार चल रहे हैं। बताया जा रहा है कि पिता व उसके दो पुत्रों ने मिलकर बंगाली तांत्रिक की हत्या की थी। जानकारी के अनुसार भोपा थाना क्षेत्र के गांव रहकड़ा में बंगाली तांत्रिक गौतम दास पुत्र रविन्द्र मोहनदास, निवासी ग्राम भोलाडंगा थाना धनताला जनपद नादिया पंश्चिम बंगाल पिछले 10 वर्षों से रहा था। वह गांव रहकड़ा के ही सतेन्द्र पुत्र अतरसिंह के घेर में रहता था। चार महीने पहलेें सतेन्द्र ने बंगाली तांत्रिक गौतमदास से ढाई लाख रुपये की रकम गांव में मकान खरीदने के लिए कहकर सुधार ली थी। रकम उधर देते समय सतेन्द्र ने गौतमदास से वायदा किया था कि वह एक महीने बाद पैसे वापिस लौटा देगा, लेकिन जब तीन महीने बीत जाने के बावजूद भी पैसे वापिस नहीं लौटाए, तो गौतमदास ने तकादा करना शुरू कर दिया। गौतमदास के तकादे से सतेन्द्र व उसके दोनों पुत्र परेशान हो गये और उन्होंने गौतमदास को ठिकाने लगाने की योजना बनाकर 14 नवम्बर की रात्रि में अपने कमरे में सोये हुए गौतमदास की हत्या कर दी। पुुलिस के अनुसार सतेन्द्र ने अपने पुत्र अंकित व सचिन तथा जगमेर पुत्र रतिराम निवासी रहकड़ा के साथ एकराय होकर गौतमदास की कपड़े से गला घोंटकर हत्या कर दी। इस मामले में भोपा थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया, जिसमें भोपा थाना प्रभारी एमएस गिल ने पुलिस टीम के साथ भागदौड करते हुए मामले का खुलासा कर दिया। पुलिस ने अंकित पुत्र सतेन्द्र व जगमेर पुत्र रतिराम को गिरफ्तार कर लिया और दोनों की निशानदेही पर मृतक के दो मोबाईल फोन व आलाकत्ल कपड़ा भी बरामद किया गया है। पुलिस ने फरार सचिन व सतेन्द्र की तलाश भी शुरू कर दी है। प्रेसवार्ता में सीओ राममोहन शर्मा भी मौजूद रहे।

Share it