Top

ई-रिक्शा चालक खेत से बेहोशी की हालत में मिला, जहरखुरानी गिरोह का बना शिकार .... शनिवार सुबह ई-रिक्शा समेत लापता हो गया था मुस्तकीम

ई-रिक्शा चालक खेत से बेहोशी की हालत में मिला, जहरखुरानी गिरोह का बना शिकार .... शनिवार सुबह ई-रिक्शा समेत लापता हो गया था मुस्तकीम

जानसठ। थाना जानसठ क्षेत्र के ग्राम सादपुर कल सुबह से ई-रिक्शा के साथ गायब 55 वर्षीय मुस्तकीम पुत्र अब्दुल पीमोड़ा पुलिया व कवाल के बीच एक खेत में बेहोशी की हालत में पड़ा मिला, जिसको 112 पुलिस ने उठाकर जानसठ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार की सुबह मुस्तकीम अपनी ई-रिक्शा लेकर घर से निकला था, क्योंकि वह रोज की भांति ई-रिक्शा लेकर कमाने के लिए जानसठ गया था। लेकिन वह घर वापस नहीं लौटा, तो परिजनों को चिंता हुई और उन्होंने रिश्तेदारी व मिलने वालों पर फोन करके पूछा, लेकिन उसका कहीं सुराग नहीं लग पाया। परिजनों ने बताया, कि आज सुबह हमने थाने में इत्तला दी। बताया जाता है कि पीमोड़ा पुलिया व कवाल के बीच जंगल में दो खेत अंदर वह बेहोशी की हालत में पड़ा मिला। परिजनों ने जानकारी देते हुए बताया कि उसको कस्बा जानसठ से कोई सेल्समैन किराए पर ले गया था, लेकिन रास्ते में उसने कोई बिस्किट खिलाये और वह बेसुध हो गया और फिर उन्होंने उसके पैसे और रिक्शा लूट ली और उसको एक खेत में फेंक दिया। सुबह जब खेत मालिक अपने खेत पर पहुंचा, तो उसने वहां किसी को बेहोसी की हालत में पड़े हुए देखा, जिसकी सूचना खेत मालिक ने 112 पुलिस को दी तत्पश्चात 112 पुलिस ने ई-रिक्शा चालक को वहां से उठाया और बेहोशी की हालत में जानसठ चिकित्सालय में भर्ती कराया और उसके घर वालो को फोन करके बताया, लेकिन ई-रिक्शा चालक की नाजुक हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने उसको जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया परिजनों ने बताया, कि वहां पर उसका इलाज चल रहा है और अब वह बेहतर स्थिति में लेकिन अभी कुछ बता नहीं पा रहा है। बस इतना ही बताया है कि मुझे जानसठ से किसी सेल्समैन ने किराए पर लिया और रास्ते में बिस्किट खिला दिया, उसके बाद मुझे कुछ पता नहीं।

Share it