Top

अनमोल वचन

अनमोल वचन

मानव के मन में संकल्प-विकल्प अर्थात विचारों का प्रवाह गतिमान रहता है, भले ही उसकी दिशा कोई भी हो । सदविचार मूल्यवान सम्पदा है। मन में विचार अच्छे भी उत्पन्न होते हैं और बुरे विचार भी। परिस्थितियां अनुकूल भी होती हैं और प्रतिकूल भी, परन्तु जो संकल्पवान होकर दृढ़ निश्चय के साथ कर्म करता है, उसको सफलता अवश्य मिलती है। इस धरा पर अनेक महापुरूष ऐसे हुए हैं, जिन्होंने केवल संकल्प ही नहीं किया, बल्कि इसके कारण सफलता ने उनके चरणों को पखारा है। भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को युद्ध क्षेत्र में उतरते ही यही संदेश दिया था कि दृढ़ संकल्प से किया गया कर्म सफलता की ओर ही ले जाता है। मनुष्य को व्यवहारिक पक्ष पर भी जोर देना चाहिए। युद्ध में जब अस्त्र उठा ही लिया तो फिर कौन अपना और कौन बेगाना। जब अन्याय के विरूद्ध आवाज उठाने का संकल्प कर लिया तो अन्याय करने वाले अपने हो या गैर हो, उनमें कोई अन्तर न करें।

Share it