Top

अनमोल वचन

अनमोल वचन

अहंकार वास्तव में हमारा शत्रु है। इसे अपने जीवन के शब्दकोष से निकाल बाहर फेंक दें। संतोष और सहनशीलता को जीवन में धारण कर निरन्तर आगे बढते रहें। जो सहना सीख जाता है, उसे सहना आ जाता है। अर्थात जीना आ जाता है। कर्म कीजिए भाग्यवादी मत बनिए, स्वयं पर भरोसा कीजिए, अपेक्षाएं केवल स्वयं से रखिए, क्योंकि बदलता वक्त और बदलते लोग किसी के नहीं होते। सच्चा व्यक्ति ही केवल आस्तिक होता है, जो स्वयं पर विश्वास रखता है। यह मत भूलो कि कृत कर्मों का फल व्यक्ति को अवश्य भोगना पडता है। अनुमान से मत मापिये किसी इंसान की हस्ती। ठहरे हुए दरिया अक्सर गहरे हुआ करते हैं। इसलिए लोगों को परखिए, अनुमान मत लगाइये, सुन्दरता चेहरे पर नहीं, लोगों के हृदय में खोजिए। सफल व्यक्ति आराम नहीं करते, उन्हें काम करने में आनन्द आता है। वे सपनों के संग सोते हैं और प्रतिबद्धता के साथ जाग जाते हैं अर्थात वे लक्ष्य के प्रति समर्पित होते हैं। यही होता है उनके जीने का अंदाज, जो सार्थक है, सुन्दर है, अनुकरणीय है।

Share it