Top

अनमोल वचन

अनमोल वचन

किसी का सहारा मनुष्य को आलसी, अर्कमण्य और अहंकारी बना सकता है और सहारा ही उसे मेहनती, कर्मठ और विनम्र भी बना सकता है। यह व्यक्ति पर निर्भर है कि वह उसे मिले सहारे को किस रूप में देखता और उसका कैसे प्रयोग करता है। हमारे द्वारा मिले थोडे से खाद-पानी के सहारे एक ही बीज पेड बनकर लोगों को खाने के लिये मीठे रसीले फल देता है और दूसरा बीज उसी खाद-पानी के सहारे विष भी उत्पन्न कर सकता है। यदि नकारात्मक पक्ष की उपेक्षा कर दें अथवा उसका अधिक संज्ञान न लिया जाये तो सहारा मनुष्य के लिये एक उत्प्रेरक का काम करता है। हमारे आसपास बहुत बडी संख्या उन लोगों की है, जिनमें हर प्रकार की प्रतिभा और सामथ्र्य है, परन्तु वें किसी के सहारे के अभाव में अपने जीवन का लक्ष्य प्राप्त नहीं कर पाते। यदि हम किसी ऐसे व्यक्ति का सहारा बन पाये तो हमें खुशी-खुशी ऐसा करना चाहिए। किसी की उन्नति में भूले से भी कभी अवरोधक न बनें, जितना सम्भव हो, अपनी सामथ्र्य के अनुसार उसे सहारा ही दें।

Share it