Top

अनमोल वचन

  • अनमोल वचन

    जीवन में यदि संघर्ष न हो, चुनौतियां न हो, तो मनुष्य के व्यक्तित्व का सर्वांगीण विकास नहीं हो पाता। बिना कडे परिश्रम के मिली सफलता असंतोष देती है। कठिनाईयों से लड़ते हुए यदि हिम्मत न हारी जाये तो सफलता की मंजिल अवश्य मिलती है। संघर्ष करते हुए ही व्यक्ति की जीवात्मा के ऊपर छाया हुआ अंधेरा छंटता है,...

  • अनमोल वचन

    चाहे समय में कितना भी परिवर्तन आया हो, युग बदला हो, परिस्थितियां बदल गई हो फिर भी कड़ी मेहनत व लग्र को सफलता के लिए किये गये प्रयास अपना सुफल देने में, चमत्कार दिखाने में पल भर देरी नहीं करते और यही कारण है कि अभावों के बीच रहकर भी सफलता पाने के इतिहास युगों से लिखे गये हैं, रचे गये हैं। वर्तमान में ...

  • अनमोल वचन

    संघर्ष जीवन को निखारते हैं, संवारते, तराश्ते और गढकर ऐसा बना देते हैं, जिसकी प्रशंसा करते जिह्वा थकती नहीं। संघर्ष हमें जीवन का अनुभव कराते हैं, सतत सक्रिय बनाते हैं और हमें जीना सिखाते हैं। संघर्ष का दामन थामकर न केवल हम आगे बढते हैं, बल्कि जीवन जीने के सही अंदाज को, आनन्द को अनुभव कर पाते हैं, जिस ...

  • कलयुग का रावण

    हर वर्ष दशहरे पर जिस रावण के पुतले का वध करके उसका दहन करते हैं वह तो लाखों वर्ष पूर्व त्रेता का रावण था, परन्तु कलियुग में एक नहीं, घर-घर में रावण पैदा हो गये हैं। वह आज के इन रावणों से हजारों गुणा चरित्रवान था। नैतिकता का स्तर यह था कि माता सीता को अपने महल में न रखकर अशोक वाटिका में रखा, ताकि...

  • अनमोल वचन

    आज दुर्गाष्टमी है। आज के दिन कन्याओं के लिए विशेष पूजन किया जाता है। कन्याओं के पैर धोकर, उनके माथे पर तिलक लगाते हैं, स्वादिष्ट पकवान खिलाते हैं, चुन्नियां ओढाते हैं। भेंट स्वरूप कुछ देते भी है। उनका पूरा सत्कार किया जाता है। याद रखो उस समय भी मां दुर्गा की दृष्टि प्रत्येक भक्त पर होती है। क्या...

  • अनमोल वचन

    संघर्ष जीवन को निखारते हैं, संवारते, तराश्ते और गढकर ऐसा बना देते हैं, जिसकी प्रशंसा करते जिह्वा थकती नहीं। संघर्ष हमें जीवन का अनुभव कराते हैं, सतत सक्रिय बनाते हैं और हमें जीना सिखाते हैं। संघर्ष का दामन थामकर न केवल हम आगे बढते हैं, बल्कि जीवन जीने के सही अंदाज को, आनन्द को अनुभव कर पाते हैं, जिस ...

  • अनमोल वचन

    कुछ समय पहले तक हमारे देश में संयुक्त परिवारों को महत्व दिया जाता था, परन्तु आज एकल परिवार तेजी से बढते जा रहे हैं। अब कोई साथ रहना नहीं चाहता। लड़कों का विवाह क्या हुआ कि घर का वातावरण ही बदल जाता है। परिवार के सदस्यों में ही इतनी दूरियां बन जाती हैं जैसे वे एक परिवार के ही न हो। परिवार के सदस्य...

  • अनमोल वचन

    परिवार ही होता है जो घर के सदस्यों को आपस में बांधकर रखता है। जिस परिवार के लोग संस्कारित और अनुशासित होते हैं, वही परिवार होता है। परिवार में अनुशासन होगा तो उसके सदस्य बहकते-भटकते नहीं। वे जीने की कला जानते हैं। अनुशासित परिवारों में खुशियों की नदियां बहती है। घर के बड़ों का उचित सम्मान होता है।...

  • अनमोल वचन

    जिस घर में नित्य प्रति लडाई-झगडे, तू-तू, मैं-मैं होती है, जहां लोग एक-दूसरे को समझना नहीं चाहते, जहां लोगों को एक-दूसरे को दुख पीडा देने में मजा जाता है, दूसरे को दुखी देखकर संतोष मिलता है, बडों को अपमानित किया जाता है, वहां स्वर्ग का निवास हो ही नहीं सकता। वहां तो वास नरक का होगा। जहां लोग कष्ट भोग ...

  • अनमोल वचन

    धरती का स्वर्ग यदि कहीं देखने को मिल सकता है तो वह हंसते-खेलते सुखी परिवार में ही देखने को मिल सकता है। यदि नरक कहीं देखने को मिलता है तो वह भी दुखी परिवार में देखने को मिलता है। पारिवारिक जीवन को स्वर्ग के समान आनन्द देने वाली परिस्थितियों में परिवर्तित किया जा सकता है और नरक के समान कष्ट देने वाली ...

  • अनमोल वचन

    वैसे तो हर दिन जगत माता की आराधना करने का दिन है, परन्तु नवरात्रों में उनका पूजन श्रद्धापूर्वक विशेष अनुष्ठानों से किया जाये। जो हृद्धय से मां को समर्पित है, उसे मां अपना सम्पूर्ण अर्पित कर देती है। वैसे भी जब मां की कृपा होती है तभी घर में चूल्हा जलता है। मां की कृपा से ही ममतामयी गोद मिलती है। उसी ...

  • अनमोल वचन

    बहुधा हम अपनी बुराईयां कमियां सुनते ही तुरन्त प्रतिक्रिया देने पर उतारू हो जाते हैं, धैर्य खोकर आक्रोश में आ जाते हैं, जबकि आलोचना सुनने का अभ्यास हमें स्वयं पर नियंत्रण करना सिखाता है। हम यह जान पाते हैं हम किन बातों से अधिक चोटिल होते हैं और कौन सी भावनाएं हमें अधिक दुखी करती हैं। इस सच्चाई को...

Share it