Top

गहलोत एवं विधायक ले रहे शाही मेहमान नवाजी का आनंद, विश्वेन्द्र बोले- जनता का काम करते तो आज यह नौबत नहीं आती

गहलोत एवं विधायक ले रहे शाही मेहमान नवाजी का आनंद, विश्वेन्द्र  बोले-  जनता का काम करते तो आज यह नौबत नहीं आती

जैसलमेर 01 अगस्त - राजस्थान में सियासी संग्राम के चलते सीमांत जैसलमेर आये मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं कांग्रेस विधायक शाही मेहमान नवाजी का आनंद ले रहे हैं। कांग्रेस विधायक यहां होटल सूर्यगढ़ में ठहरे हैं। होटल परिसर में ही श्री गहलोत ने अपने विधायकों की बैठक ली और उनमें जोश का संचार किया।

उधर आज ईद के अवसर पर मुस्लिम विधायकों ने होटल में ही ईद की नमाज अदा की। मौलवी यासीन ने उन्हें नमाज अदा कराई। इस दौरान शिव विधायक अमीन खान, भरतपुर विधायक वाजिद अली,, आमीन कागजी, रफीक खान आदि कई विधायकों ने ईद की नमाज अदा की। अल्पसंख्यक मामलात मंत्री सालेह मोहम्मद ने सभी व्यवस्थाओं की जिम्मेदारी संभाल रखी है। ईद के अवसर पर श्री गहलोत ने मुस्लिम विधयकों को ईद की शुभकामनाएं दी। इस मौके श्री मोहम्मद की तरफ से मिठाइयां बांटी गई।

इस बीच श्री गहलोत जयपुर रवाना होंगे वहीं शेष रहे कुछ विधायक एवं मंत्री आज जैसलमेर पहुंच जाएंगे। होटल के बाहर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। इसके लिए जयपुर से पुलिस अधिकारी भेजे गए है। अपनी शाही सुविधाओं के लिए प्रसिद्ध होटल सूर्यगढ़ में गहलोत समर्थक कांग्रेस विधायकों को रखा गया है। ये सभी विधायक यहां पर तेरह अगस्त तक ठहरेंगे। सुबह कुछ विधायकों ने होटल के लॉन में व्यायाम एवं योगा कर स्वयं को तरोताजा किया। वहीं कुछ विधायकों ने जिम में पसीना बहाया। इसके बाद लॉन में श्री गहलोत सहित सभी विधायकों ने चाय की चुस्कियों के साथ आगे की रणनीति पर चर्चा की। इसके बाद श्री गहलोत ने विधायकों की बैठक लेकर आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए। इस दौरान उन्होंने कहा कि कुछ दिन की बात है। हमें एकजुट होकर रहने की जरुरत है। होटल सूर्यगढ़ के बाहर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है और किसी बाहरी व्यक्ति को होटल में प्रवेश नहीं दिया जा रहा है।

इसी बीच राजस्थान के पूर्व पर्यटन मंत्री एवं पायलट गुट के विधायक विश्वेन्द्र सिंह ने कहा है कि अगर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पिछले डेढ़ साल में प्रदेश की जनता एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं के काम करते तो आज यह नौबत नहीं आती। राज्य में चल रहे सियासी संग्राम में पायलट गुट के विधायकों के साथ प्रदेश के बाहर किसी जगह ठहरे श्री सिंह ने सोशल मीडिया के जरिए यह बात कही। उन्होंने कहा "मुख्यमंत्रीजी यदि आप पिछले अठारह माह में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं, प्रदेश की जनता के काम करते जो आज आप पांच सितारा होटल में बैठकर कर रहे हो, तो ना प्रदेश की जनता विरोध करती, ना सरकार अल्पमत में होती, ना हम दिल्ली आते।"

उन्होंने कहा "हमें जनता ने चुना है, हम जनता की सुनेंगे, जनता ही हमारेलिए सर्वोपरि है। उन्होंने कहा कि आज जब सरकार अल्पमत में है, तब आपने पर्यटन विभाग के कर्मचारियों की समस्याओं पर ध्यान दिया, काश यह काम थोड़ा पहले कर देते गहलोतजी, तो ना यह सरकार अल्पमत में होती ना हमें दिल्ली आना पड़ता।" श्री सिंह ने कहा कि हम भी जनता के द्वारा चुने हुए जनप्रतिनिधि हैं, पिछले 18 माह से मैंने मुख्यमंत्री से मिलकर व्यक्तिगत रूप से प्रदेश के लोगों एवं मेरे विभाग की समस्याओं के बारे में बार-बार अवगत कराया लेकिन मुख्यमंत्री ने इस और कोई ध्यान नहीं दिया, आखिर क्यों।

उल्लेखनीय है कि राज्य में चल रहे सियासी संग्राम में पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट सहित 19 कांग्रेस विधायक राज्य के बाहर कहीं ठहरे हुए हैं वहीं शेष कांग्रेस विधायकों में ज्यादात्तर विधायक एवं बसपा से कांग्रेस में आये विधायक एवं निर्दलीय विधायक सहित नब्बे से अधिक विधायक जैसलमेर के एक होटल में ठहरे हुए है।

Share it