Top

औद्योगिक इकाइयों का पानी शोधन बाद ही नदियों में जाएगा-विश्नोई

औद्योगिक इकाइयों का पानी शोधन बाद ही नदियों में जाएगा-विश्नोई

जयपुर, 14 फरवरी - राजस्थान के पर्यावरण राज्य मंत्री सुखराम विश्नोई ने कहा कि जोधपुर-पाली स्थित औद्योगिक इकाइयों से निकला पानी शोधित करने के बाद ही नदियों में जाएगा।

श्री विश्नोई ने आज विधानसभा में प्रश्नकाल में इस संबंध में पूछे गये पूरक प्रश्नों का जवाब देते हुये कहा कि जोधपुर में रीको से जो प्रदूषित पानी निकलता है, उसके लिए सांगरिया में 20 एमएलडी का सीईटीपी लगाया गया है तथा वर्ष 2017 में 25 बीघा जमीन भी निःशुल्क आवंटित की गई है। इसके अतिरिक्त पाली में 3 सीईटीपी चालू है। जोधपुर में सीवरेज के लिए 3 ट्रीटमेंट प्लांट लगे हुये हैं तथा वासनी में एक प्लांट निर्माणाधीन है। उन्होंने कहा कि औद्योगिक क्षेत्रों का गंदा पानी साफ करके ही नदियों तथा खेतों में जाएगा।

इससे पूर्व विधायक मदन प्रजापत के प्रश्न के जवाब में श्री विश्नोई ने बताया कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जोधपुर, पाली की औद्यौगिक ईकाईयों से निकलने वाले रसायनयुक्त प्रदूषित पानी से जिला बाडमेर में (पीएचसी, अराबा एवं सीएचसी, कल्याणपुरा क्षेत्र में) बीमारियों के बढ़ने की कोई सूचना नही है।

Share it
Top