Top

मक्‍के की फसल पर कीटों का हमला, 30 प्रतिशत नुकसान

मक्‍के की फसल पर कीटों का हमला, 30 प्रतिशत नुकसान

01 अगस्‍त। हिमाचल में सुस्त पड़े मानसून में फॉलआर्मी वर्म कीट ने मक्‍के की फसल पर जोरदार हमला बोला है। मंडी, शिमला, कांगड़ा और ऊना जिले में 25 से 30 फीसदी फसल को कीट चट कर चुके हैं। किसानों में हड़कंप के बीच कृषि विभाग ने एडवाइजरी के साथ अलर्ट जारी किया है। कृषि विभाग के उपनिदेशक डॉ. अतुल डोगरा ने कहा कि कम बरसात होने से कीट ज्यादा एक्टिव हैं।

अब तक ऊना में ही 25.65 करोड़ रुपये का नुकसान आंका जा चुका है। यह कीट तितली मॉथ के रूप में पौधों के निचले पत्तों पर अंडे देता है। अंडों से निकलीं सुंडियां पौधों को अपना खाना बनाती हैं। पत्तों को खाकर उनमें समांतर चलने वाले लंबे-लंबे छेद बनाती हैं और बाद में पूरा पत्ता खा जाती हैं। उल्लेखनीय है कि बारिश के कम होने से दक्षिण भारत से बीजों के माध्यम से उत्तर भारत में पहुंचा फॉलो आर्मी वर्म कीट का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है।

किसान ऐसे बचाएं फसल

कृषि विभाग ने किसानों को ऐममिक्टिन वेन्जोएट 5 एसजी (0.4 मिलि प्रति लीटर पानी) या फ्लूवेण्डामाइड 480 एससी (0.4 मिलि प्रति लीटर पानी) या क्लोरेन्ट्रनिलीप्रोल 18.5 एससी (0.4 मिलि प्रति लीटर पानी) या स्पाइनोसेड (0.3 मिलि प्रति लीटर पानी) का छिड़काव करने की सलाह दी है। यह छिड़काव सुबह या शाम के समय ही करें और 15 दिनों के अंतराल पर दोबारा छिड़काव करें।

Share it